हरियाणा में 73वां गणतंत्र दिवस बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया, कहाँ किस मंत्री ने फहराया तिरंगा  

0
137
कुमार मधुकर 

चंडीगढ़, 27 जनवरी – हरियाणा में 73वां गणतंत्र दिवस बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। राज्य स्तरीय समारोह का आयोजन पंचकूला में किया गया, जहां हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया। वहीं मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने अंबाला में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और परेड की सलामी ली। गणतंत्र दिवस के मौके पर सभी जिलों में जिला स्तरीय समारोह का भी आयोजन किया गया, जिनमें उपमुख्यमंत्री, विधानसभा अध्यक्ष व उपाध्यक्ष, कैबिनेट मंत्रियों, राज्य मंत्रियों, मण्डल आयुक्तों और उपायुक्तों ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया।
उपमुख्यमंत्री ने जींद में फहराया राष्ट्रीय ध्वज
जींद में आयोजित जिला स्तरीय समारोह में उप मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए झंडा फहराया और भव्य परेड की सलामी ली। इससे पूर्व उन्होंने शहीद स्मारक पर पुष्प चक्र चढ़ाकर शहीदों को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किये। इस अवसर पर हरियाणा पुलिस की टुकड़ी ने शस्त्र झुकाकर एवं मातमी धुन बजाकर शहीदों को नमन किया। श्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हम जिस उन्मूक्त एवं  स्वतंत्र वातावरण में विचरण कर रहे हैं वह शहीदों, स्वतंत्रता सेनानियों एवं सरहदों की रक्षा कर रहे सैनिकों की बदौलत है। उन्होंने कहा कि हम इनके हमेशा ऋणी रहेंगे। उन्होंने कहा कि यह आत्ममंथन करने का दिन है कि हम संविधान निर्माताओं की परिकल्पना को साकार करने के लिए कहां तक सफल हुए हैं । उन्होंने कहा कि हरियाणा में भी सरकार विकास के मूलमंत्र पर प्रदेश के हर क्षेत्र का विकास करवाने लिए प्रयासरत है। व्यवस्था परिवर्तन एवं सुशासन के मार्ग पर चलते हुए कई अनूठी पहल की हैं । इनमें युवाओं को योग्यता के आधार पर सरकारी नौकरी,कर्मचारियों को ऑनलाइन तबादला, राशन, पेंशन, वजीफों, सब्सिडी में चल रहे फर्जीवाड़े को बंद करना आदि शामिल हैं ।
विधानसभा अध्यक्ष ने यमुनानगर में फहराया राष्ट्रीय ध्वज
हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने पुलिस लाईन जगाधरी के परिसर में आयोजित जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया तथा मार्च पास्ट का निरीक्षण कर परेड की सलामी ली। परेड का नेतृत्व डीएसपी रवि कुंडिया ने किया। इससे पूर्व श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने पुलिस लाईन में स्थित शहीदी स्मारक पर जाकर शहीदों को नमन कर उन्हें पुष्प अर्पित किए। समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सन 1950 में गणतंत्र दिवस के दिन ही हमारा संविधान लागू हुआ था। इसी संविधान के कारण हम सभी को समान न्याय, स्वतंत्रता एवं समानता का अधिकार मिला और उन्होंने बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर सहित संविधान सभा के तमाम सदस्यों को नमन करता किया। गणतंत्र दिवस के साथ हमारे देशभक्तों के त्याग और बलिदान की एक लंबी गौरवगाथा जुड़ी हुई है। आजादी की लड़ाई में हरियाणा प्रदेश का भी अहम योगदान रहा है। हरियाणा के नौजवान सेना में भर्ती होना अपनी शान समझते हैं और यही कारण है कि आज भारतीय सेना का हर दसवां जवान हरियाणा से है।
गृह मंत्री ने करनाल में फहराया राष्ट्रीय ध्वज
करनाल में आयोजित समारोह में गृह मंत्री श्री अनिल विज ने मुख्य अतिथि के रूप में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और परेड की सलामी ली। परेड में सम्मिलित हरियाणा पुलिस, महिला पुलिस, गृह रक्षी व एनसीसी आर्मी विंग, एनसीसी एयर विंग तथा भारत स्काउट्स व गाइड्स की टुकड़ियों ने भाग लेकर शानदार मार्च पास्ट किया। इससे पूर्व श्री अनिल विज ने शहीदी स्मारक पर जाकर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाली सभी 6 टीमों को गृह मंत्री ने 51-51 हजार रुपये की पुरस्कार राशि देने की घोषणा की।
उन्होंने कहा कि 26 जनवरी 1950 में भारतीय संविधान लागू हुआ था। संविधान की बदौलत छोटे-बड़े, अमीर-गरीब सभी को न्याय, स्वतंत्रता और समानता का अधिकार मिला। इसके लिए उन्होंने बाबा साहेब डॉ. भीम राव अम्बेडकर सहित, संविधान सभा के तमाम सदस्यों को नमन किया। उन्होंने कहा कि गणतंत्र दिवस के साथ हमारे देशभक्तों के त्याग और बलिदान की एक लंबी गौरवगाथा जुड़ी हुई है। देश को आजादी दिलाने के लिए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, शहीद भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव, चंद्रशेखर आजाद और उधम सिंह जैसे अनेक स्वतंत्रता सेनानियों ने लम्बा संघर्ष किया। आजादी की लड़ाई में हरियाणा के वीरों का अहम योगदान रहा है।
कंवर पाल ने कुरुक्षेत्र में फहराया राष्ट्रीय ध्वज
कुरुक्षेत्र में आयोजित समारोह में शिक्षा मंत्री श्री कंवरपाल में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और परेड की सलामी ली। उन्होंने शहीदी स्मारक पर पुष्पचक्र भेंट कर शहीदों को नमन किया और श्रद्धांजलि अर्पित की। समारोह में शिक्षा मंत्री ने उल्लेखनीय कार्य करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों को सम्मानित किया। इस अवसर पर प्रदेशवासियों को संदेश देते हुए उन्होंने कहा कि गणतंत्र दिवस के साथ देशभक्तों के त्याग, तप और बलिदान की एक लम्बी गौरव गाथा जुड़ी है। इन शूरवीरों के बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है। इन शूरवीरों के सपनों को साकार करने के लिए हमें देश और प्रदेश की तरक्की में योगदान देना होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में संस्कार और रोजगार से युक्त शिक्षा देने के लिए नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू की जा रही है। इसे प्रदेश में वर्ष-2025 तक पूरी तरह लागू कर दिया जाएगा।
परिवहन मंत्री ने गुरुग्राम में राष्ट्रीय ध्वज फहराया
जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह गुरुग्राम के सेक्टर 38 स्थित ताऊ देवीलाल स्टेडियम के चौधरी सुरेंद्र सिंह मेमोरियल क्रिकेट पवेलियन में आयोजित किया गया, जहां पर प्रदेश के परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और भव्य परेड की सलामी ली। गुरूग्राम में स्थित युद्ध स्मारक पर श्री मूलचंद शर्मा ने पुष्प चढ़ाकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए परिवहन मंत्री ने राज्य सरकार और केंद्र सरकार की उपलब्धियों का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में वर्तमान राज्य सरकार ने प्रदेश में नई व्यवस्था बनाकर लोगों में नई उम्मीद जगाने का काम किया है। सबका साथ -सबका विकास के मूलमंत्र पर चलते हुए सरकार ने प्रदेश की तस्वीर और लोगों की तकदीर बदली है। उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि राष्ट्र स्वाभिमान के इस मौके पर हम सब देश व प्रदेश के नवनिर्माण में अपने पूरे सामर्थ्य से जुट जाने का संकल्प लें।
कृषि मंत्री ने भिवानी में राष्ट्रीय ध्वज फहराया
भिवानी में आयोजित जिला स्तरीय समारोह में कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री जे पी दलाल मुख्य राष्ट्रीय ध्वज फहराया और परेड की सलामी ली। उन्होंने शानदार मार्च पास्ट का निरीक्षण किया। कृषि मंत्री ने नेहरू पार्क स्थित शहीद स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर देश की आजादी में अपने प्राणों को न्यौछावर करने वाले अमर शहीदों को नमन किया। श्री दलाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने पिछले लगभग पौने आठ साल के कार्यकाल में कई ऐसे निर्णय लिए, जिससे न केवल भारत के प्रति दुनिया का नजरिया बदला, बल्कि एक शक्तिशाली देश के रूप में हमारी पहचान बनी। उन्होंने कहा कि हमारे देश युवाओं ने खेल व शिक्षा सहित प्रत्येक क्षेत्र में विश्व में अपना नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों के हितों के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं चलाई हैं।
सहकारिता मंत्री ने हिसार में राष्ट्रीय ध्वज फहराया
हिसार में आयोजित समारोह में सहकारिता मंत्री डॉ बनवारी लाल ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और परेड का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर व संविधान सभा के सदस्यों द्वारा लिखित भारत का संविधान विश्व में सबसे बेहतरीन संविधान हैं, जिसकी बदौलत देश के सभी धर्मों, संप्रदायों व जातियों के लोगों को सामाजिक, आर्थिक और राजनैतिक दृष्टि से समान अधिकार प्राप्त हुए हैं। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों को उनकी संपत्ति का मालिकाना हक देने के लिए गांवों को लाल डोरा मुक्त किया जा रहा है। इसमें 6309 गांवों को कवर किया जा चुका है। ‘मेरा परिवार-मेरी पहचान’ कार्यक्रम के तहत सभी परिवारों के परिवार पहचान-पत्र बनाए जा रहे हैं।
कमल गुप्ता ने रोहतक में राष्ट्रीय ध्वज फहराया
शहरी स्थानीय निकाय मंत्री डॉ. कमल गुप्ता ने रोहतक में 73 वें गणतंत्र दिवस के जिला स्तरीय समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया तथा भव्य परेड की सलामी ली। डॉ. कमल गुप्ता ने कहा कि हम देश के स्वतंत्रता संग्राम में सर्वस्व न्यौछावर करने वाले स्वतंत्रता सेनानियों तथा वीर शहीदों को नमन करते हैं, जिनकी बदौलत हम खुली हवा में सांस ले रहे हैं। कृतज्ञ राष्ट्र हमेशा इन शहीदों का ऋणी रहेगा। उन्होंने अपने स्वैच्छिक कोष से कार्यक्रम के लिए चार लाख रुपये तथा शहरी क्षेत्र के लिए एक लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में एक संविधान एक निशान और एक प्रधान के सिद्धांत को लागू करने के लिए धारा-370 को समाप्त करने का साहसिक कार्य किया है। राज्य में शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए विद्यालय व महाविद्यालय स्थापित किए गए हैं। केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के कल्याण के लिए अनेक योजनाएं क्रियान्वित की जा रही हैं ।
राज्य मंत्री ओपी यादव ने चरखी दादरी में राष्ट्रीय ध्वज फहराया
चरखी दादरी में मनाए गए गणतंत्र दिवस समारोह में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री श्री ओ. पी. यादव ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि भारत विश्व का एक महान गणतंत्र है, जहां की लोकतांत्रिक व्यवस्था में अलग-अलग संस्कृतियों का समावेश होते हुए यह भारत माता रूपी मजबूत डोर में बंधा हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसानों,व्यापारियों, महिलाओं, खिलाडिय़ों, मजदूरों, पूर्व सैनिकों आदि हर वर्ग की भलाई के लिए काम कर रही है। राज्य मंत्री ने समारोह में उपस्थित वीरांगनाओं एवं सैन्य पदक विजेताओं को शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया।
महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री ने रेवाड़ी में राष्ट्रीय ध्वज फहराया
महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री श्रीमती कमलेश ढांडा ने रेवाड़ी में आयोजित 73वें जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और और मार्च पास्ट की सलामी ली। इस दौरान उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय प्रदर्शन करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को सम्मानित किया। इस अवसर पर श्रीमती कमलेश ढांडा ने कहा कि 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के महानायकों में शामिल अमर शहीद राव तुलाराम की पावन धरती पर आना उनके लिए सौभाग्य की बात है। इस पावन अवसर पर रेवाड़ी जिला की धरा उन माताओं, बहनों को नमन करती हैं, जिन्होंने वीर सपूतों को जन्म दिया है। आज भी हरियाणा के नौजवान सेना में भर्ती होना अपनी शान समझते हैं। यही कारण है कि भारतीय सेना का हर दसवां जवान हरियाणा से है।
श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री ने कैथल में राष्ट्रीय ध्वज फहराया
श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री श्री अनूप धानक ने कैथल में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि गणतंत्र दिवस के साथ हमारे देश भक्तों के त्याग और बलिदान की एक लंबी गौरव गाथा जुड़ी हुई है। देश की आजादी के लिए अपने प्राणों की न्यौछावर करने वाले सभी ज्ञात-अज्ञात शहीदों के साथ-साथ उन जांबाज जवानों को भी सलाम करता हूं, जिन्होंने आजादी के बाद देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों की बाजी लगा दी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने व्यवस्था परिवर्तन एवं सुशासन के पथ पर चलते हुए एक नई अनूठी पहल की है।
खेल एवं युवा मामले राज्य मंत्री ने फरीदाबाद में राष्ट्रीय ध्वज फहराया
खेल एवं युवा मामले राज्य मंत्री श्री संदीप सिंह ने फरीदाबाद में जिला स्तरीय 73 वें गणतंत्र दिवस समारोह पर राष्ट्रीय झंडा फहराया। इससे पूर्व उन्होंने शहीद स्मारक पर जाकर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीदों को नमन किया। उन्होंने बेहतर कार्य करने वाले लोगों और सरकारी अधिकारियों व कर्मचारियों को भी सम्मानित किया। इस अवसर पर खेल राज्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश के खिलाडिय़ों ने ओलंपिक व अन्य अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में  पदक जीतकर देश व प्रदेश का नाम रोशन किया है। यह सब हमारे खिलाडिय़ों की लगन व मेहनत और सरकार की खेल नीति का सुपरिणाम है। हरियाणा पदक जीतने वाले खिलाडिय़ों को पुरस्कार के रूप में देश में सर्वाधिक नगद राशि देता है। ओलंपिक की तैयारी के लिए पांच लाख रुपये की एडवांस राशि देने वाला देश का पहला राज्य है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here