छाबड़ा जी बताएं! कांग्रेस इकाइयां भंग, तो शशिशंकर तिवारी महासचिव कैसे?

0
749
संजीव शर्मा
    (ब्यूरो चीफ)

चंडीगढ़ 10 दिसंबर 2019। शहर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा से पार्टी के दर्जनों नेता और कार्यकर्ता चीख चीखकर पूछ रहे हैं कि जब शहर में एमपी चुनाव से पहले ही पार्टी की सभी इकाइयां भंग हो गई थी, तो शशिशंकर तिवारी अपने आपको महासचिव बताकर खबर कैसे छपवा सकता है। उनका कहना है कि आए दिन तिवारी की ओर से प्रेसनोट जारीकर महासचिव बताकर खबरें छपवा रहे हैं। आखिरकार किसके इशारे पर मीडिया में खबरें छपवाई जा रही है। कार्यकर्ताओं ने साफ तौर पर प्रदेश अध्यक्ष छाबड़ा को सवालों के घेरे में खड़ा करते हुए सख्त लहजे में पूछा है कि क्या पार्टी से अनुशासन का सफाया हो गया है। यदि शशिशंकर तिवारी अपने आपको मीडिया में पार्टी का महासचिव अब तक बता रहे हैं तो उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई क्यों नहीं। कई कार्यकर्ताओं व नेताओं ने यहां तक कहा है कि इस संबंध में जल्द ही राष्टÑीय कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को पत्र लिखकर पार्टी के अंदर के हालात से अवगत कराएंगे।

ध्यान रहे कि लोकसभा चुनाव से पहले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा ने मीडिया से बताया था कि पार्टी की सभी इकाइयां भंग कर दी गई है। इस प्रकार से प्रदेश अध्यक्ष को छोड़कर कांग्रेस पार्टी में कोई भी पदाधिकारी नहीं है। इसके बाद भी मीडिया में शशिशंकर तिवारी अपने आपको पार्टी का महासचिव होने का दावा कर रहे हैं। अक्सर मीडिया में प्रेसनोट जारी कर अपने को महासचिव बताकर प्रेसनोट छपवा रहे हैं। इससे पार्टी में ही नहीं बल्कि मीडिया, कार्यकर्ता और शहर में लोगों के बीच लगातार भ्रम की स्थिति पैदा हो रही है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने चंडीगढ़ न्यूज एक्सप्रेस डॉट इन के माध्यम से प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा से स्पष्ट पूछा है कि प्रदेश की इकाइयां भंग हुई हैं या नहीं। यदि भंग हो गई है तो शशिशंकर तिवारी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई क्यों नहीं।
पढ़ें शशिशंकर तिवारी का प्रेसनोट 
काफी समय भाजपा के शासन में रेहड़ी-फड़ी वालों के साथ हो रही धक्केशाही : रेहड़ी-फड़ी मजदूर यूनियन 
नगर कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा से मिलकर लगायी गुहार
चण्डीगढ़: रेहड़ी-फड़ी मजदूर यूनियन, चण्डीगढ़ का एक प्रतिनिधिमंडल कांग्रेस के स्थानीय महासचिव एवं यूनियन के चेयरमैन शशिशंकर तिवारी के नेतृत्व में नगर कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा से राजीव गाँधी कांग्रेस भवन, से. 35 में मिला और भाजपा शासित नगर निगम द्वारा रेहड़ी-फड़ी वालों के साथ हो रही धक्केशाही के खिलाफ ज्ञापन दिया। उनके मुताबिक स्ट्रीट वेंडर एक्ट के तहत काफी लोगों का सर्वे हुआ है और उन्हें आईडी नंबर मिला हुआ है लेकिन धांधली के चलते उन लोगों का नाम सर्वे में नही आया जिस कारण आज हजारो की तादाद में लोग 5 दिन से बेरोजगार होकर सड़कों पर धक्के खा रहे है व उनके परिवार भुखमरी के कगार पर है। यूनियन के सदस्यों ने कहा कि वे लोग पिछले कई सैलून से तंदूरी नान छोले व रोटी इत्यादि बेच कर अपनी रोजी रोटी कमाकर अपने बच्चे पालते थे पर अब हमें नगर निगम काम नहीं करने दे रहा है और भाजपा नेता हमारी कोई सुध नहीं ले रहे।
छाबड़ा ने सारी बाते ध्यानपूर्वक सुनी व कहा कि जब तक कांग्रेस की सत्ता रही तब तक चण्डीगढ़ में गरीबों को कोई तंगी नही आई पर आज भाजपा के राज में हरेक वर्ग दु:खी है। उन्होंने आश्वासन दिया कि आप लोगों के इस मुद्दे को लेकर पार्षदों के साथ नगर निगम कमीशनर से मिलकर आग्रह करेंगे कि आप लोगों के साथ न्याय हो और आप लोगों की रोजी-रोटी सुचारु ढंग से चल सके। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा गरीबो के साथ थी, हैऔर हमेशा रहेगी।
प्रतिनिधि मंडल में प्रेमपाल सिंह, नरेश, राम किशोर, टिंकू, महावीर, हरी राम, रामलाल, रत्नलाल, प्रभा महतो, श्याम सिंह, नन्हे राम, तेज कुमार, राजिंदर, तेजपाल, राजू, महेंद्र पाल, मुकेश, सुनील, संजय कुमार, इंद्र पाल, प्रदीप व चंद्र सेन इत्यादि काफी संख्या में लोग शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here