रंजीता मेहता ने सत्यपाल जैन को करवाया शिशु गृह का निरीक्षण

0
336

कुमार मधुकर
पंचकूला 09 दिसंबर, 2023. पंचकूला शिशु गृह सेक्टर 15 में पल रहे एक साल 10 महीने के बच्चे का अब गुरुग्राम का एक परिवार लालन-पालन करेगा। भारत सरकार के सॉलिटियर जनरल श्री सत्यपाल जैन ने शनिवार को गुरुग्राम के परिवार को बच्चा गोद भी दिया। हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद की मानद महासचिव रंजीता मेहता ने सत्यपाल जैन का शिशु ग्रह सेक्टर 15 पंचकूला में पहुंचने पर स्वागत किया। रंजीता मेहता ने सत्यपाल जैन को शिशु गृह में चल रही गतिविधियों से अवगत करवाया। साथ ही उन्हें बच्चों एवं स्टाफ से भी मिलवाया। रंजीता मेहता ने सत्यपाल जैन को बताया कि इस शिशु गृह में एक दिन से लेकर 6 साल के बच्चे रह रहे हैं, जिनका लालन-पालन शिशु गृह सेक्टर 15 के स्टाफ द्वारा बखूबी किया जा रहा है।

मुख्य अतिथि सत्यपाल जैन ने कहा कि अपने बच्चों का लालन-पालन तो सभी लोग करते हैं, लेकिन ऐसे बच्चों का लालन पालन करना बड़ी बात है, जिनका पोषण उनके स्वयं के माता-पिता भी नहीं करना चाहते थे और किसी कारणवश वह अपने बच्चों को छोड़ जाते हैं। ऐसे बच्चों को संभालना, उनका खाना पीना, रहना, स्कूल की व्यवस्था करना बहुत पुन्य का कार्य है। आज के दौर में यह काम सोसाइटी में बहुत कम हो रहा है। इन बच्चों को महीने दो महीने से लेकर 6 साल की आयु तक पालन पोषण रंजीता मेहता और उनकी टीम द्वारा किया जा रहा है, जिसके लिए वह बधाई की पात्र हैं। सत्यपाल जैन कहा कि मैंने स्वयं निरीक्षण किया, तो देखा कि बच्चों के लिए हर प्रकार की सुविधा, बेहतरीन साफ-सफाई, उनकी शिक्षा, अच्छा रहन-सहन शिशु गृह में बच्चों को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि आजकल कई लोग बच्चों को अडॉप्ट करना चाहता है, उसके लिए सुविधा उपलब्ध करवाना बहुत आवश्यक है, जो कार्य हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद बाग खूबी निभा रहा है। यहां से जो भी परिवार बच्चे गोद ले रहे हैं, वह बड़े अच्छे ढंग से बच्चों का लालन-पालन कर रहे हैं। सत्यपाल जैन ने कहा कि हमें संतोष समर्पण के भाव से मिलता है, निस्वार्थ सेवा से मिलता है, वह कहीं और नहीं मिल सकता। बच्चे प्यार के भूखे होते हैं और जो यहां से बच्चे अडॉप्ट कर रहे हैं, वह इन्हें अपना खून मान कर प्यार करें।

मानद महासचिव रंजीता मेहता ने कहा कि यहां से आज जिस परिवार ने बच्चों को गोद लिया है, वह उस परिवार में खुशियां भर दे, उनको किसी प्रकार की कोई कमी ना हो, यही हम मनोकामना करते हैं। रंजीता मेहता ने कहा कि हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद बच्चों के लालन-पालन रहन-सहन स्कूली शिक्षा के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रहा। प्रदेश की मनोहर लाल सरकार द्वारा इन बच्चों के लिए विशेष सुविधाएं दी जा रही हैं। समय-समय पर ग्रांट दी जाती है। बच्चों को अडॉप्ट करने के लिए एक कानूनी प्रक्रिया है, जिसके माध्यम से बच्चे गोद लिए जा रहे हैं। हमारे कई बच्चे विदेश में भी पल रहे हैं। उन्होंने शिशु गृह के स्टाफ को बच्चों के लालन-पालन के लिए किया जा रहे कार्यों के लिए बधाई भी दी। इस अवसर पर डीपी पुनिया, अर्चना कपूर, शिशु गृह की सुपरीटेंडेंट अमृतपाल कौर, सुपरीवाइजर ईशा राणा, आइटी एक्सपर्ट संजीत कुमार सिंह सहित अन्य स्टाफ उपस्थित रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here